धीमी प्रक्रिया में ही सही, पाकिस्तान सरकार 400 हिन्दू मंदिरों का जीर्णोद्धार करेगी।


ईमेल सब्सक्राइब करे और प्रतिदिन पाएँ उत्कृष्ठ लेख!



इमरान खान के नेतृत्व वाली पाकिस्तान सरकार ने 400 हिन्दू मंदिरों का जीर्णोद्धार करने का लक्ष्य लिया है। भले यह प्रक्रिया बहुत धीमी रहेगी और प्रति वर्ष 2-3 मंदिर ही जीर्णोद्धार पा सकेंगे, हिन्दू जागरण अभियान और HinduAbhihyan.com इसका स्वागत करता है।

ऑनलाइन हिन्दू शॉप से ख़रीदारी करें

इस प्रक्रिया का आरंभ सियालकोट और पेशावर के दो ऐतिहासिक मंदिरों से होगा। सियालकोट में चालू स्थिति में जगन्नाथ मंदिर है जहां अब 1000 वर्ष पुराना शिवालय तेजा सिंह जी का जीर्णोद्धार किया जाएगा। 1992 में भीड़ ने इस पर आक्रमण कर दिया था तब से हिंदुओं ने यहाँ जाना बंद कर दिया। पाकिस्तान न्यायालय ने पेशावर में गोरखनाथ मंदिर के जीर्णोद्धार का आदेश दिया था और अब इसे हेरिटेज स्थान घोषित कर दिया गया है।

इससे पहले, आल पाकिस्तान हिन्दू अधिकार आंदोलन ने पाकिस्तान में एक सर्वे किया था और पाया था कि भारत पाकिस्तान के समय 428 हिन्दू मंदिर थे और उनमे से 408 को खिलोनों की दुकान, व्यवसायी भोजनालय, सरकारी कार्यालय और मदरसों में बदल दिया गया है।

पाकिस्तान सरकार का ये प्रयास अगर अच्छे तारीके लागू किया जाता है तो इसका स्वागत किया जाना चाहिए और भारत सरकार को भी इसमे सहयोग करना चाहिए।


ईमेल सब्सक्राइब करे और प्रतिदिन पाएँ उत्कृष्ठ लेख!


Buy Book of the week by Clicking on it NOW!.



Written By

loading...

2 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *